1800 1807 777 enquiry@mbgbpatna.com

  IFSC CODE : PUNB0MBGB06

Chairman's Message

प्रिय मित्रो,

दिनांक 18.06.2018 को मैंने मध्य बिहार ग्रामीण बैंक में अध्यक्ष के रुप में योगदान दिया है । बैंक अपने स्थापना काल से अबतक बहुत ही सफलतापूर्वक रास्ता तय किया है । नये-नये कीर्तिमान स्थापित हुए है । प्रांतीय व अखिल भारतीय स्तर पर इसकी पहचान स्थापित हो चुकी है । इस महति उपलब्धि में नेतृत्व के अलावा आप सब का महत्वपूर्ण योगदान है । मैं इस बैंक से जुड कर खुशी महसूस कर रहा हूँ ।

MBGB

(प्रणय कुमार महंति)


वास्तविक चुनौति अब हमारे सामने है – प्राप्त उपलब्धियों को बरकरार रखने की, उससे आगे जाने की । सबसे पहले इस अहसास को जागृत करने की जरूरत है कि आप सब एक महत्त्वपूर्ण जिम्मेवारी को विशिष्ट सौभाग्य के साथ निर्वहन कर रहे हैं । ऐसा मैं इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि कोई व्यक्ति किसी को सहायता के रूप में कुछ दान या भीख दे सकता है जो प्राप्तकर्त्ता के लिए यथेष्ठ नहीं होगा परंतु आपको यह सौभाग्य प्राप्त है कि आप उसको वित्तीय सहायता उसके रोजगार के लिए, उसके विकास के लिए कर सकते हैं । आप समाज और देश के विकास में सहभागी बन सकते हैं । आप क्षमतावान है– ऐसा मेरा पूर्ण विश्वास है । अभी बैंकिंग क्षेत्र में प्रतिस्पर्द्धा काफी है । जहाँ हमारा एकाधिकार था वहाँ अब अन्य बैंक भी अपने लिए Opportunity ढ़ूंढ़ रहे है । स्पष्ट है हमारे लिए Threat बढ़ रहा है ।

नि:संदेह जमा एवं अच्छे ऋण की जरुरत हमे है,परंतु जो हमारा खराब ऋण(एनपीए) है उसका Up gradation उतना ही आवश्यक है । इस पर तबज्जो देने की जरुरत है । अत: रिकवरी के जितने भी साधन है, हमें सब का उपयोग करना है । यथा :


दोस्तो, मैंने महसूस किया है कि किसी भी काम को अंजाम तक पहुँचाने की सलाहियत आपमें है । जरुरत है लक्ष्य के प्रति अभिप्रेरित रहने की । वातावरण अनुकूल बनाये रखने और जुनून के साथ काम करने की । बैंक सेवान्मुख संस्था है । बैंक और ग्राहक का संबंध अन्योन्याश्रय होता है । कहा जाता है कि सौ संतुष्ट ग्राहक जितनी मदद आपको कर सकते है उससे कई गुणा नुकसान एक असंतुष्ट ग्राहक कर सकता है । अत: ख्याल रखा जाना चाहिए कि एक भी ग्राहक सेवा-स्तर पर असंतुष्ट न हो ।

मेरा मानना है कि लक्ष्य हरदम बड़ा होना चाहिए तथा उसे प्राप्त करने की पूरी ईमानदारी से भरपूर कोशिश की जानी चाहिए । कोशिश कभी निरर्थक नहीं हो सकती है । लक्ष्य प्राप्ति या यूँ कहें कि सफलता हमें अभिप्रेरित करती है और सबसे शक्तिशाली प्रेरणा हमारे अपने विश्वासों से जन्म लेती है ।

मित्रों, आपको पता है बैंक की स्थिति क्या है और जरुरत क्या है । उसे ठीक कैसे किया जा सकता है – यह भी आपको मालूम है । समय-समय पर दिशा-निर्देश, सुझाव निर्गत होते रहते हैं, परंतु आपका सुझाव भी अपेक्षित है ।

आपने PCA(Prompt Corrective Action) के संबंध में जरुर सुना होगा । ग्रामीण बैंक के लिए भी मार्ग निर्देश निर्गत हो गये हैं । घबराने की जरुरत नहीं है । पहले हमें समस्याओं का एहसास होना जरुरी है ,फिर समाधान की ओर कदम बढ़ाने है । मित्रों, मैं आप सब को आश्वस्त करना चाहता हूँ कि किसी भी समस्या का समाधान जो हमारे स्तर से संभव होगा उसका निवारण आपके मांगे बगैर हो जाएगा । मध्य बिहार ग्रामीण बैंक हम सब का है, इसी से हमारी पहचान है । बैंक को नई ऊँचाई पर ले जाने हेतु हर संभव प्रयास किया जाएगा, आपसे अपील है कि समर्पित भाव से आप सहयोग करें । शुभकामनाओं के साथ,

आपका

(प्रणय कुमार महंति)

Top